सावधान ! प्लास्टिक की बोतल वाला पानी आपके लिए हो सकता है हानिकारक और खतरनाक।

Nandani Goswami
4 Min Read

आजकल प्लास्टिक का इस्तेमाल हमारे जीवन का अहम हिस्सा हो चूका है। और प्लास्टिक मॉडर्न लाइफस्टाइल का हिस्सा भी बन चुका है, लेकिन क्या आप जानते हैं इसका इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए कितना खतरनाक है। हम सभी रोजाना प्लास्टिक की बोतल का इस्तेमाल करते हैं। स्कूलकॉलेज या ऑफिस लगभग हर जगह हम पानी पीने के लिए प्लास्टिक बोतल का इस्तेमाल करते हैं।हालांकि यह पानी हमारी सेहत के लिए काफी हानिकारक साबित हो सकता है।

आजकल जहां देखो प्लास्टिक नज़र आता है, हम अक्सर बाहर जाते हैं तो पानी की बोतल लेना ही ठीक समझते हैं। लेकिन एक प्लास्टिक की बोतल में पानी पीना आपके लिए जहर से कम नहीं है। रसोई-घर के डब्बे हों, या बाज़ार में बिकने वाली पानी की बोतल। या सामान लाने वाले पॉलिथिन। कप, प्लेट, स्ट्रॉ हर एक चीज़ पर प्लास्टिक का दख़लकारी हैं। यहां तक कि समंदर से निकलने वाले कचरे में भी ज्यादातर प्लास्टिक ही होता हैं।

प्लास्टिक की बोतल वाला पानी हो सकता है खतरनाक

भारत सरकार प्लास्टिक के पॉल्यूशन से लोगों को बचाने के लिए सतत प्रयास कर रही है। प्लास्टिक यूज़ करने पर बैन भी लगा चुकी है। बावजूद इसके लोग प्लास्टिक से दूरी नहीं बना रहे हैं और आज भी प्लास्टिक की बॉटल में पानी पीते हैं।प्लास्टिक केवल वातावरण ही प्रदूषित नहीं कर रहा है बल्कि आपके स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंचा रहा है। एक्सपर्ट के अनुसार, प्लास्टिक एक पॉलीमर है। यह कार्बन, हाइड्रोजन ऑक्सीजन और क्लोराइड से मिलकर बना होता है। इसमें बीपी नाम का केमिकल भी होता है। डॉक्टरों का कहना है कि केमिकल और पॉलीमर में पाए जाने वाले तत्व अगर शरीर में जाते हैं तो इनका अलग ही केमिकल रिएक्शन होता हैं। यही रिएक्शन शरीर में कई बीमारियों का कारण बन जाता है।

हाल ही में हुई एक रिसर्च के मुताबिक पूरे साल में तकरीबन एक लाख से ज़्यादा पार्टिकलस शरीर में घुसकर ह्यूमेन सेल्स को नुकसान पहुंचाते हैं। ये एक तरफ हार्ट के ब्लड वेसेल्स को जाम करते हैं, तो दूसरी तरफ किडनी के नेफ्रॉन को नुकसान पहुंचाते हैं। परिणाम हार्ट अटैक और किडनी फेलियर का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। जाने अनजाने हम हर साल लाखों पार्टिकल्स प्लास्टिक के कन्ज्यूम करते हैं, जिसका परिणाम हमारा शरीर चुकाता है। दरअसल, जिस प्लास्टिक का इस्तेमाल आप अपनी लाइफ स्टाइल को आसान बनाने के लिए कर रहे हैं, वहीं प्लास्टिक आपको अनजाने में बीमारियां दे रहा है।

हर एक चीज़ पर प्लास्टिक का दख़लकारी हैं।

प्लास्टिक से बहुत पहले, कांच का उपयोग पानी, दूध, बीयर और लगभग किसी भी पदार्थ के संचयन के लिए किया जाता था। यह मजबूत, स्वच्छ और टिकाऊ है। हालांकि ज्यादा तापमान के संपर्क में आने पर इसके टूटने का खतरा हो सकता हैं। लेकिन,इससे पानी पीना और इसमें स्टोर करना पूरी तरह सेफ होता है। प्लास्टिक के इन नुकसानों से सुरक्षित रहने के लिए आप प्लास्टिक की बोतल के बजाय तांबे, कांच या स्टेनलेस स्टील की बोतल से पानी पी सकते हैं।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *