जानिए क्यों लगा रहे ”नीतीश कुमार देश के प्रधानमंत्री बने” के नारे

Shivani sahu
3 Min Read

आज से राजधानी दिल्ली में सत्ताधारी जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) की दिल्ली में दो अहम बैठकें हो रही हैं.जेडीयू की यह बैठक राजधानी दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में आयोजित की जा रही है.जिसमे पहले जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होगी और फिर दोपहर 3:30 बजे राष्ट्रीय परिषद की बैठक होगी.JDU की इस बड़ी बैठक को लेकर सबकी नजरें टिकी हैं.

बिहार के सीएम नीतीश कुमार बैठक में शामिल होने के लिए पहुंच गए हैं. उनके साथ कार में पार्टी अध्यक्ष ललन सिंह भी बैठे थे. बैठक से पहले समर्थकों ने नीतीश के पक्ष में नारे लगाए. कार्यकर्ताओं को ‘नीतीश कुमार जिंदाबाद’… ‘नीतीश कुमार देश के प्रधानमंत्री बनें’ के नारे लगाते देखा गया.

JDU ka baithak

जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से राजीव रंजन सिंह (ललन सिंह) ने इस्तीफा दे दिया है. और इसमें ललन सिंह की जगह नीतीश कुमार को पार्टी की कमान सौंपने का फैसला हुआ. जेडीयू की बैठक में तीन प्रस्ताव पास हुए. पहला प्रस्ताव था- जातिगत गणना की पहल कर नीतीश कुमार ने पूरे देश में मिसाल कायम किया.

दूसरा प्रस्ताव था- सांसदों का निलंबन लोकतंत्र के मूल भावना के खिलाफ है. और तीसरा प्रस्ताव था- इंडिया गठबंधन में सीट सीयरिंग के मुद्दे पर बातचीत के लिए नीतीश कुमार पार्टी की ओर से अधिकृत हैं. इन प्रस्तावों के पास होने के बाद ललन सिंह ने जेडीयू अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया.

आने वाले दिनों में नीतीश दोनों जिम्मेदारियों को एक साथ संभालते देखे जाएंगे. इस्तीफा देते वक्त ललन सिंह ने कहा, नीतीश कुमार जी के कहने पर ही मैंने राष्ट्रीय अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभाली थी. आगे मुझे लोकसभा चुनाव लड़ना है, ऐसे में एक साथ पार्टी की जिम्मेदारी संभालना चुनौती होगी. इसलिए मैं नीतीश कुमार जी को पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालने का प्रस्ताव रखना चाहता हूं. 

nitish kumar

ललन सिंह के इस्तीफे के बाद पटना में जेडीयू दफ्तर में पार्टी के कार्यकर्ता आतिशबाजी कर रहे हैं.लोग काफी उत्साहित हैं. जेडीयू की कमान फिर से नीतीश कुमार संभालेंगे.और कार्यकर्ताओं का कहना है कि पार्टी मजबूत होगी.और कुछ कार्यकर्ता कह रहे हैं की नीतीश कुमार को बीजेपी के साथ जाना चाहिए.

Share This Article
मैं एक लेखक के रूप में नवीनतम समाचार लिखती हूं और एक कहानीकार भी हूं।
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *