‘पीएम उज्जवला योजना’ मुफ्त गैस सिलेंडर पाने का अब एक और मौका!

Nandani Goswami
5 Min Read

महिलाओं के लिए मोदी सरकार कई नई-नई योजनाएं नई नई सुविधाये शुरू करती रहती है। जिनमें से एक योजना का नाम प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरुआत मोदी सरकार द्वारा साल 2016 में की गई थी। इस योजना का मकसद था कि गरीब और निम्न आय वर्ग से आने वाले महिलाओं को भी एलपीजी सिलेंडर का लाभ मिल सके।इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा ग्राम्य क्षेत्र के गरीब परिवारों और बीपीएल कार्ड धारक परिवार की महिलाओं को फ्री में गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया जाता है।

अभी तक राज्य में ही यह योजना थी कि केंद्र व राज्य सरकार लाभार्थी के खाते में अलग-अलग सब्सिडी ट्रांसफर करती थी। लेकिन अब गुजरात में भी गुजरात मॉडल को लागू किया जाएगा। इस मॉडल के अनुसार राज्य की पीएम उज्जवला योजना से जुड़ी महिलाओं के खाते में सब्सिडी की राशि एक साथ ट्रांसफर की जाएगी। और महिला लाभार्थी के खाते में गैस सिलेंडर पर सब्सिडी की राशि दी जाती है जिस महिला के नाम से गैस कनेक्शन होता हैं। केंद्र के साथ ही राज्य सरकार की ओर से भी इस योजना से जुड़े लाभार्थियों को रसोई गैस पर सिंलेडर पर सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाता है।

महिलाओं को फ्री में गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया जाता है।

हाल ही में सरकार ने देश में घरेलू एलपीजी गैस की कीमत में 200 रुपए की कटौती की थी। वहीं प्रधानमंत्री उज्जवला योजना को इन 200 रुपये के अलावा अतिरिक्त 200 रुपये प्रति सिलेंडर के हिसाब से छूट मिलती रहेगी। ऐसे में इस योजना के लाभार्थियों को 400 रुपये सस्ता सिलेंडर मिलेगा। इस घोसणा के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी ऐलान किया था कि केंद्र सरकार प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2.0 के तहत महिलाओं को 75 लाख मुफ्त एलपीजी कनेक्शन देगी। यह कनेक्शन 3 साल यानी 2026 तक दिए जाएंगे। इसके लिए सरकार ने सरकारी तेल कंपनियों को 1650 करोड़ रुपए जारी करने की मंजूरी दी है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य रसोई को धुआं मुक्त बनाना है। साथ ही खाना पकाने के लिए एक स्वच्छ ईंधन उपलब्ध कराकर महिलाओं के सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है। ताकि गरीब और निम्न आय वर्ग से आने वाली महिलाओं को भी एलपीजी सिलेंडर का लाभ मिल सके। यह योजना केंद्र सरकार की सफलतम योजनाओं में से एक है। पीएम उज्जवला योजना को खासतौर पर गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाली महिलाओं के लिए ही लॉन्च किया गया है। इसका लाभ केवल BPL कार्डधारकों को ही मिलता है। इस योजना का फ़ायदा उठाने के लिए आपके पास राशन कार्ड होना जरुरी हैं। इसके साथ आपकी परिवारिक आवक 27,000 रुपये से कम होनी चाहिए।

मुख्य उद्देश्य रसोई को धुआं मुक्त बनाना

अगर आप प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अधीन ऑनलाइन अर्जी करना चाहते हैं तो आपको बता देकि उज्ज्वला योजना के लिए ऑनलाइन अर्जी की व्यवस्था नहीं की गई है लेकिन आप ऑफलाइन प्रक्रिया के माध्यम से इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं। ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया नीचे दी गई है जोकि कुछ इस प्रकार है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2024 में आवेदन कैसे करें?

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना आवेदन फॉर्म आप अपने नजदीक गैस एजेंसी जाकर या उज्ज्वला योजना की इस www.pmuy.gov.in वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं।

जिसके लिए आपको उज्ज्वला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। जिसमे वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। होम पेज पर आपको डाउनलोड फॉर्म का ऑप्शन दिखाई देगा उसे क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा। उस फॉर्म को डाउनलोड कर आवेदन फॉर्म का प्रिंट निकाल लेना हैं और आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को दर्ज करलेना हे साथी फॉर्म के साथ अपने सभी जरूरी दस्तावेजों की कॉपी संलग्न कर लेनी हैं। इसके बाद आपको अपने नजदीकी गैस एजेंसी के पास जाकर सभी दस्तावेजों को जमा कर देना होगा। अर्जी के प्रमाणीकरण होने पर आपको इस योजना के तहत एलपीजी गैस कनेक्शन मिल जाएगा।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *